Taliban Super Car

Talibans Unveil Their First ‘Indigenously Built’ Car: तालिबान के शासन वाले अफगानिस्तान ने अपनी पहली स्वदेशी सुपरकार की शुरुआत की है, जिसे वे MADA 9 नाम दिया है। कार अभी भी प्रोटोटाइप चरण में है और इस सुपरकार को विकसित करने में पांच साल से अधिक का समय लगा। इसका डेवलेपमेंट ENTOP और काबुल के अफगानिस्तान तकनीकी व्यावसायिक संस्थान (ATVI) के कम से कम 30 इंजीनियरों ने किया था।

परफॉर्मेंस के आंकडे नहीं आए सामने-

प्रोटोटाइप MADA 9 एक रिवाइज्ड Toyota Corola इंजन द्वारा संचालित है। परफॉर्मेंस के आंकड़े अभी सामने नहीं आए हैं, हालांकि ATVI के हेड गुलाम हैदर शाहमत ने अफगानिस्तान की TOLO न्यूज को बताया कि मॉडिफिकेशन इस तरह से किया गया है कि अगर आप कार की स्पीड बढ़ाते हैं तो इंजन काफी पावरफुल होगा। ENTOP एक इलेक्ट्रिक पावरट्रेन के साथ MADA 9 को फिट करेगा।

तालिबान ने पूरा किया कमिटमेंट: हक्कानी

MADA 9 एक रिवाइज्ड टोयोटा कोरोला इंजन द्वारा संचालित है। ईएनटीओपी मुख्यालय में कल कार को अनवील करते हुए, तालिबान के हाई एजूकेशनल मिनिस्टर अब्दुल बाकी हक्कानी ने कहा कि यह कार तालिबान शासन की ‘अपने लोगों के लिए धर्म और मॉडर्न साइंस देने की कमिटमेंट को साबित करने वाली कार है।

लॉन्च डेट का नहीं हुआ खुलासा-

इसके अलावा, ईएनटीओपी (कार निर्माता) के सीईओ मोहम्मद रिजा अहमदी ने टोलो न्यूज को बताया कि सुपरकार “लोगों को ज्ञान का मूल्य बताएगी” जो बदले में विश्व मंच पर अफगानिस्तान की छवि को बढ़ावा देने में मदद करेगी। कार की लॉन्च डेट का अभी खुलासा नहीं हुआ है। हालांकि, रिज़ा ने कहा है कि कार पहले अफगानिस्तान में अपनी यात्रा शुरू करेगी, और “एक दिन यह अंतरराष्ट्रीय स्तर पर जाएगी।”

MADA 9 का परीक्षण पहले ही किया जा चुका है। हालाँकि, कार की अब तक ऐसी कोई छवि उपलब्ध नहीं है, सिवाय उन छवियों के जो कार को पार्क की हुई दिखाती हैं। तालिबान के प्रवक्ता ने इन तस्वीरों को सोशल मीडिया पर अपलोड किया और बताया कि कैसे कार का निर्माण देश के लिए एक ‘सम्मान’ था।