Nitin Gadkari Office Received Threat Calls

Nitin Gadkari Office Received Threat Calls: केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के कार्यालय में धमकी भरे कॉल आने के कुछ घंटों बाद, नागपुर पुलिस ने शनिवार को कॉल करने वाले को कर्नाटक की एक जेल में ढूंढ निकाला और राज्य सरकार से आरोपी को पेश करने का अनुरोध किया।

दाऊद इब्राहिम के गिरोह का सदस्य होने का किया दावा-

कॉलर, जिसने दाऊद इब्राहिम के गिरोह का सदस्य होने का दावा किया और 100 करोड़ रुपये की मांग की थी, उसकी पहचान गैंगस्टर जयेश कांथा के रूप में की गई है जो कर्नाटक की बेलगावी जेल में सजा काट रहा है। उसने जेल के अंदर से अवैध तरीके से फोन किए।

अवैध रूप से किया फोन-

मीडिया से बात करते हुए, नागपुर के पुलिस आयुक्त अमितेश कुमार ने पुष्टि की, “केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी को जेल से धमकी दी जा रही थी। कॉल करने वाला एक कुख्यात गैंगस्टर और हत्या का आरोपी जयेश कांथा है, जो कर्नाटक की बेलगावी जेल में कैद है। उसने गडकरी के कार्यालय को जेल के अंदर अवैध रूप से फोन धमकी दी थी।”

आरोपी के पास से बरामद हुई डायरी-

खबरों के मुताबिक, जेल प्रशासन ने आरोपी के पास से एक डायरी बरामद की है और मामले की विस्तृत जांच शुरू कर दी है. इस बीच, नागपुर पुलिस बेलगावी के लिए रवाना हो गई है और कांथा का प्रोडक्शन रिमांड मांगा है।

इससे पहले दिन में, नितिन गडकरी के कार्यालय को बीएसएनएल नेटवर्क-पंजीकृत नंबर से गडकरी के कार्यालय के लैंडलाइन नंबर पर सुबह 11.25 बजे, 11.32 बजे और दोपहर 12.32 बजे तीन कॉल प्राप्त हुईं।

पुलिस ने कहा, “फोन करने वाले ने फोन ऑपरेटर को बताया कि वह डी गिरोह का सदस्य है और उसने गडकरी से 100 करोड़ रुपये की मांग की। उसने मांग पूरी नहीं होने पर मंत्री को बम से नुकसान पहुंचाने की धमकी दी।”

कथित धमकी भरे कॉल के जवाब में, नागपुर पुलिस ने बाद में केंद्रीय मंत्री के चारों ओर सुरक्षा बढ़ा दी थी।