Bhopal-Crime
Bhopal-Crime

भोपाल। ईदगाह हिल्स स्थित बाचपेयी नगर मल्टी में रहने वाले युवक घर में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। इस दौरान उसकी मां लैट की बालकनी में बैठी धूप लेती रही। जबकि उसके दोनों भाई काम पर गए हुए थे। मामले में पुलिस ने मर्ग कायम कर लिया है। आज बॉडी का पोस्टमार्टम कराया जाएगा।

पुलिस के अनुसार महेश यादव पुत्र संतोष यादव(40) लैट नंबर 7 मल्टी बाजपेयी नगर में रहता था। वह पुताई का काम करता था। करीब 18 साल पहले उसकी शादी हुई थी। शादी के तीन साल बाद भी उसकी कोई औलाद पैदा नहीं हुई थी। 15 साल पहले उसकी पत्नी उसे छोड़कर मायके चली गई। इसके बाद वह कभी नहीं लौटी। महेश ने उसे लाने के लिए कार्फी प्रयास किए पर वह नहीं मानी।

महेश के दो और भाई हैं, दोनों मजदूरी करते हैं। कल सुबह दोनों भाई अपने काम पर चले गए थे। पिता अपने काम पर चले गए। घर में मां और महेश बचा था। मां दोपहर करीब 12 बजे धूप लेने के लिए बालकनी में बैठ गईं। करीब डेढ़ घंटे बाद लौटी तो देखा की महेश ने फांसी लगा ली है। मां के शोर मचाने पर पड़ोसियों ने शव को फंदे से उतारा था। उन्होंने ही पुलिस और मृतक के भाईयों को मामले की जानकारी दी। पुलिस ने एफएसएल की टीम से स्पॉट मुआएना कराने के बाद में मर्ग कायम कर जांच शुरु कर दी है।

Bhopal Crime: अंडे के ठेले पर शराब बेच रहा था तस्कर, क्राइम ब्रांच ने दबोचा

ट्रेन की चपेट में आने से युवक की मौत

भोपाल। शाहपुरा थाना क्षेत्र स्थित विद्या नगर रेलवे ट्रैक पर शाम ट्रेन की चपेट में आने से एक युवक की मौत हो गई। प्रारंभिक जांच में मामला हादसे से जुड़ा नजर आ रहा है। पुलिस ने मर्ग कायम कर शव पीएम के लिए भेज दिया है। एएसआई रमाकांत पांडे ने बताया कि हरिशंकर अहिरवार विद्या नगर बागसेवनिया में रहता है।

उसने पुलिस को बताया कि उसका साला जगदीश अहिरवार पिता नेतराम अहिरवार (30) गावं बीजा, थाना उदयपुरा, जिला रायसेन में रहता था और मजदूरी करता था। दो दिन पहले ही वह मेहमानी के लिए गांव से भोपाल आया था और उनके पास रुका था।

बुधवार शाम सामान खरीदने का कहकर जगदीश घर से निकला था। वह खरीदारी कर लौट रहा था, तभी विद्या नगर रेलवे ट्रैक पार करते समय ट्रेन की चपेट में आ गया। इस हादसे में उसे सिर में गंभीर चोट आई थी और घुटने भी टूट गए थे। सूचना पर पहुंची पुलिस ने जगदीश का शव बरामद कर पीएम के लिए भेज दिया है।