Karni Sena
Karni Sena

भोपाल। पिपलानी पुलिस ने करणी सेना के दर्जनभर से अधिक कार्यकर्ताओं पर अभद्र भाषा का प्रयोग करने का मामला दर्ज किया है। दरअसल, कार्यकर्ताओं का एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है, जिसमें वह गालियां देते हुए नजर आ रहे है। वीडियो बुधवार दोपहर का बताया जा रहा है।

अब पुलिस वीडियो के आधार पर अभद्र भाषा का प्रयोग करने वाले कार्यकर्ताओं की पहचान कर रही है। पहचान कर आरोपियों को गिरफ्तार किया जाएगा।

Karni Sena Andolan Samaapt : 18 मांगों पर बनी सहमति, जूस पिलाकर आंदोलन कराया खत्म

प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे युवक ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

भोपाल। कोलार थाना क्षेत्र स्थित कस्टम कॉलोनी में बुधवार शाम प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे एक युवक ने फांसी लगाकर की आत्महत्या कर ली। उसके पास से सुसाइड नोट नहीं मिला। प्रारंभिक जांच में यह बात सामने आई कि वह डिप्रेशन में रहता था और परिजन उसका मनौचिकित्सक के पास इलाज भी करवा रहे थे। पुलिस ने मर्ग कायम कर शव पीएम के लिए भेज दिया है।

कस्टम कॉलोनी कोलार में किराए से रहते थे-

एसआई शैलेंद्र कुशवाह ने बताया कि अजय किरार पिता बल्लभ किरार (23) तहसील बमौरी, गुणा का रहने वाला था। शैलेंद्र का बड़ा भाई गोपाल किरार पोस्ट ऑफिस में नौकरी करता है। दोनों भाई कस्टम कॉलोनी कोलार में किराए से रहते थे। उनके साथ एक अन्य गांव का युवक रहता था। युवक और अजय प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे थे। बुधवार को शैलेंद्र ड्यूटी गया था।

शाम करीब 4 बजे अजय का दोस्त रूम पर पहुंचा तो दरवाजा अंदर से बंद था। कॉल करने के बाद भी अजय ने कॉल रीसिव नहीं किया तो भाई गोपाल को सूचना दी गई। गोपाल ड्यूटी से घर पहुंचा और किसी तरह से दरवाजा तोड़ा गया। इस दौरान अजय की लाश सिलिंग फेन पर बेडशीट के सहारे लटकी मिली। भाई और दोस्त अजय को फंदे से उतारकर निजी अस्पताल भी ले गए थे, लेकिन वहां डॉक्टर ने प्राथमिक जांच में ही अजय को मृत घोषित कर दिया।

कमरे में डॉक्टर के पर्चे मिले-

सूचना पर पहुंची पुलिस ने अजय के कमरे की तलाशी ली तो कमरे में डॉक्टर के पर्चे मिले। भाई गोपाल ने पुलिस को बताया कि अजय डिप्रेशन में रहता था और गांव में वह पूर्व में भी आत्महत्या के प्रयास कर चुका है। उसका इलाज डॉक्टर अग्रवाल के पास चल रहा था।