Australia vs South Africa : कमिंस ने दिलाई द्रविड की याद, दूसरे सचिन बने ख्वाजा

कमिंस ने घोषित की पारी, अधुरा रह गया ख्वाजा का दोहरा शतक का सपना

Australia vs South Africa
Australia vs South Africa

सिडनी । ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के बीच सिडनी में खेले जा रहे टेस्ट में कुछ ऐसा हुआ कि लोगों को 19 साल पहले हुए एक घटना याद आ गई है। दरअसल, दोनों टीमों के बीख् तीन मैचों की टेस्ट सीरिज के तीसरे और अंतिम टेस्ट में बारिश और खराब रोशनी के कारण पहले 2 दिन का खेल देरी से शुरू हुआ और तीसरे दिन तो खेल शुरू ही नहीं हो पाया। दो दिनों में जितना भी खेल हुआ उसमें ऑस्ट्रेलिया ने 4 विकेट के नुकसान पर 475 रन बना लिए थे। ओपनर बल्लेबाज उस्मान ख्वाजा 195 रनों पर नाबाद थे।

कमिंस से फैसले से नहीं बन सका दोहरा शतक

ऐसे में दोहरे शतक की दहलीज पर खड़े उस्मान ख्वाजा को इस बात की उम्मीद थी कि उन्हें सिडनी टेस्ट के चौथे दिन यानी शनिवार को अपना दोहरा शतक पूरा करने का मौका मिल जाएगा। लेकिन, ऑस्ट्रेलियाई कप्तान पैट कमिंस ने उनके अरमानों पर पानी फेर दिया और दूसरे दिन के 475/4 के स्कोर पर ही पारी घोषित कर दी। इस तरह दूसरे दिन 195 रन पर नाबाद लौटे उस्मान अपना दोहरा शतक पूरा नहीं कर पाए।

Australia vs South Africa : बल्लेबाजी करते हुए अचानक सिगरेट मांगने लगे लाबुशेन, वीडियो हो गया वायरल

फैसले को लेकर ट्रोल हो रहे हैं कमिंस

पैट कमिंस अपने इस फैसले को लेकर ट्विटर पर ट्रोल होना भी शुरू हो गए। हर कोई उनके इस कदम की आलोचना कर रहा है, क्योंकि अगर वो पारी घोषित नहीं करते तो उस्मान अपने टेस्ट करियर का पहला दोहरा शतक पूरा कर लेते और जिस बल्लेबाज की बदौलत ऑस्ट्रेलिया इस टेस्ट में मजबूत स्थिति में पहुंचा, उसका मान भी रह जाता। हालांकि, कमिंस के मन में शायद कुछ और ही चल रहा था। लेकिन उस चक्कर में ख्वाजा के अरमान अधूरे रह गए।

द्रविड़ ने सचिन के साथ 19 साल पहले ऐसा किया था

ऐसा ही कुछ मार्च 2004 में राहुल द्रविड़ ने भी सचिन तेंदुलकर के साथ किया था। तब भारतीय टीम के कप्तान द्रविड़ थे और टीम इंडिया पाकिस्तान दौरे पर गई थी और दोनों देशों के बीच मुल्तान में टेस्ट खेला जा रहा था। वीरेंद्र सहवाग ने इसी टेस्ट की पहली पारी में तिहरा शतक जड़ा था और सचिन तेंदुलकर भी 194 रन पर खेल रहे थे और द्रविड़ ने पारी घोषित कर दी थी। इसके बाद द्रविड़ की काफी आलोचना भी हुई थी। सचिन ने भी नाखुशी जताई थी। अब ठीक वैसा ही, कमिंस ने ख्वाजा के साथ किया।

शानदार फार्म में हैं उस्मान ख्वाजा

उस्मान ख्वाजा बीते 12 महीने से शानदार फॉर्म में हैं। उन्होंने सिडनी क्रिकेट ग्राउंड में लगातार तीसरा शतक लगाया है और 195 नाबाद उनके टेस्ट करियर का सबसे बेस्ट स्कोर है। ख्वाजा ने पिछले साल सिडनी टेस्ट के लिए ऑस्ट्रेलियाई टीम में वापसी के बाद से अब तक 5 सेंचुरी जड़ दी है। उन्हें हाल ही में 2022 के लिए आईसीसी मेंस टेस्ट क्रिकेटर ऑफ द ईयर के लिए नॉमिनेट हुए हैं।