Hockey World Cup : जर्मनी ने खेला ड्रॉ, कोरिया ने जापान को हराया

कोरिया की हॉकी विश्वकप में जापान पर दूसरी जीत

Hockey World Cup
Hockey World Cup

भुवनेश्वर । हॉकी विश्व कप में मंगलवार को दो मैच खेले गए। दिन के पहले मैच में कोरिया और जापान की टीम आमने-सामने। इसमें कोरिया ने 2-1 से जीत हासिल की। वहीं, दूसरे मुकाबले में दो बड़ी टीमें आमने-सामने हुईं। डिफेंडिंग चैंपियन बेल्जियम के सामने दो बार की विजेता जर्मनी की चुनौती थी। दोनों टीमों के बीच यह मुकाबला 2-2 की बराबरी पर छूटा।

बेल्जियम और जर्मनी के बीच मैच ड्रॉ

मौजूदा विजेता बेल्जियम ने मंगलवार को हॉकी विश्वकप में दो बार की चैंपियन टीम जर्मनी के साथ मुकाबला 2-2 से ड्रॉ खेला। बेल्जियम पूल बी में गोल अंतर से शीर्ष पर है, जबकि उसके बाद जर्मनी के भी इतने ही अंक हैं। बेल्जियम की टीम एक समय मैच में 1-2 से पीछे चल रही थी।

अंतिम छह मिनट पर हुआ गोल

लेकिन जब मैच के खत्म होने में छह मिनट बचे थे तब वेग्नेज विक्टर ने मैदानी गोल करके मुकाबला 2-2 से बराबर कर दिया। इसके बाद कोई भी टीम कोई गोल नहीं कर पाई और मैच बराबरी पर खत्म हुआ। बेल्जियम के लिए अन्य गोल चार्लिअर चेड्रिक (नौवां मिनट) ने किया। वहीं, जर्मनी के लिए निक्लास वेलेन (22वां मिनट) और ग्रामबुश टॉम (52वां मिनट) ने गोल दागे।

Hockey World Cup : अर्जेंटीना-ऑस्ट्रेलिया ने खेला ड्रॉ, फ्रांस, मलेशिया और नीदरलैंड को मिली जीत

कोरिया की हॉकी विश्वकप में जापान पर दूसरी जीत

कोरिया ने मंगलवार को पिछड़ने के बाद शानदार प्रदर्शन करते हुए जापान को 2-1 से हरा दिया। यह हॉकी विश्वकप के इतिहास में कोरिया की जापान पर दूसरी जीत है। इससे पहले कोरिया ने जापान को 2002 पुरुष विश्वकप में 3-0 से हराया था। इसके साथ ही कोरिया ने मौजूदा विश्वकप में भी पहली जीत दर्ज की। उसके दो मैचों में एक जीत, एक हार के साथ तीन अंक हैं। वहीं, जापान अपने दोनो मैच हार चुका है।

ली जुंगजुन ने दागे दो गोल

मैच के हीरो कोरिया के ली जुंगजुन रहे जिन्होंने दो मैदानी गोल दागे। जापान की मैच में शुरुआत अच्छी रही, लेकिन वे इसे मैच में कायम नहीं रख सके। जापान को पेनाल्टी कॉर्नर मिला और इसे केन नागायोशी ने गोल में बदलकर टीम का खाता खोल दिया। इसके सात मिनट बाद ही ली जुंगजुन ने गोल करके मैच को 1-1 से बराबर कर दिया। पहला क्वार्टर 1-1 से बराबर रहा। दूसरे क्वार्टर में जुंगजुन ने 23वें मिनट में गोल दागकर अपनी टीम को 2-1 से आगे कर दिया। इसके बाद तीसरे और चौथे क्वार्टर में कोई गोल नहीं हुआ और कोरिया ने मैच जीत लिया।