Hockey World Cup : क्रॉस ओवर मुकाबले से पहले भारत को झटका, हार्दिक सिंह वर्ल्डकप से हुए बाहर

हार्दिक की जगह राज कुमार पाल को टीम में शामिल

Hockey World Cup
Hockey World Cup

भुवनेश्वर । हॉकी वर्ल्डकप में भारमीय टीम वेल्स के खिलाफ जीत के बाद भी क्वार्टर फाइनल में नहीं पहुंच सकी है। टीम इंडिया को रविवार को न्यूजीलैंड के खिलाफ भारत के महत्वपूर्ण क्रॉसओवर मैच से पहले स्टार मिडफील्डर हार्दिक सिंह मेंस हॉकी वर्ल्ड कप से बाहर हो गए हैं। इंग्लैंड के खिलाफ मैच के दौरान उन्हें हैमस्ट्रिंग इंजरी हुई थी। हार्दिक को वेल्स के खिलाफ भारत के पूल डी के आखरी गेम के लिए आराम दिया गया था। हॉकी इंडिया ने शनिवार को इसकी जानकारी दी। हार्दिक की जगह राज कुमार पाल को टीम में शामिल किया जाएगा।

शुरआत में चोट गंभीर नहीं लग रही थी : रैड

भारतीय हॉकी टीम के कोच ग्रैहम रैड ने कहा कि, शुरुआत में चोट इतनी गंभीर नहीं लग रही थी। रिहैबिलिटेशन और ऑन फील्ड अस्सेस्मेंट के बाद हमने फैसला लिया है कि, हम हार्दिक की जगह राज कुमार पाल को रेप्लस करेंगे। हार्दिक का वर्ल्ड कप अच्छा जा रहा था। वे इंजरी को लेकर दुखी है।

स्पेन के खिलाफ दागा था दूसरा गोल

पहले मैच में हार्दिक ने दूसरे क्वार्टर में फुल टाइम से पहले 26वें मिनट ने शानदार मैदानी गोल दागते हुए भारत को स्पेन के खिलाफ 2-0 की बढ़त दिलाई थी।

Hockey World Cup : वेल्स को 4-2 से हराया, क्वार्टर फाइनल खेलने अब न्यूजीलैंड को हराना होगा

हार्दिक का यह दूसरा वर्ल्ड कप था

24 साल के हार्दिक सिंह का यह दूसरा वर्ल्ड कप था। इससे पहले 2018 में भी वे टीम का हिस्सा थे। हार्दिक के दादा इंडियन नेवी में हॉकी के कोच रह चुके है।

ओलिंपिक और कॉमनवेल्थ गेम्स में जीता मेडल

हार्दिक सिंह ने 2020 टोक्यो ओलंपिक्स में टीम के साथ ब्रॉन्ज मैडल जीता था। वहीं पिछले साल 2022 में कामनवेल्थ गेम्स में हार्दिक सिल्वर मेडल जीतने वाली टीम के भी हिस्सा थे। इसके अलावा उन्होंने एशियाई चैंपियंस ट्रॉफी में एक बार गोल्ड और एक ब्रॉन्ज जीता हुआ है। हार्दिक सिंह 2021 में अर्जुन अवार्ड से नवाजे गए थे।

वेल्स को 4-2 से हराया

भारत ने हॉकी वर्ल्ड कप के अपने आखिरी पूल मैच में वेल्स को 4-2 से हराया था। भुवनेश्वर के कलिंगा स्टेडियम में गुरुवार को भारत की ओर से आकाशदीप सिंह ने 2 गोल किए। जबकि शमशेर सिंह और हरमनप्रीत सिंह की स्टिक से एक-एक गोल आया। इस जीत के बावजूद भारतीय टीम सीधे क्वार्टर फाइनल में नहीं पहुंच सकी। भारत को न्यूजीलैंड के खिलाफ क्रॉसओवर मुकाबला खेलना होगा। उसमें जीत मिलने की स्थिति में टीम क्वार्टर फाइनल में जाएगी। भारत को डायरेक्ट क्वार्टर फाइनल में पहुंचने के लिए वेल्स के खिलाफ 8-0 से जीत की जरूरत थी।