पिछले 5 वर्षो में 27 उपग्रह और 25 प्रक्षेपण यान मिशन सफलतापूर्वक पूरे किए गए

नई दिल्ली। केंद्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) जितेंद्र सिंह ने बुधवार को संसद में कहा कि पिछले पांच वर्षो के दौरान कुल 27 उपग्रह मिशन और 25 प्रक्षेपण यान मिशन सफलतापूर्वक पूरे किए गए। लोकसभा में एक प्रश्न के उत्तर में, मंत्री ने बताया कि इसके अलावा, घरेलू और साथ ही विदेशी ग्राहकों के 286 वाणिज्यिक उपग्रह (कमर्शियल सैटेलाइट) और भारतीय विश्वविद्यालयों के 8 छात्र उपग्रहों (स्टूडेंट सैटेलाइट) को भी उक्त अवधि के दौरान लॉन्च किया गया है।

सिंह ने कहा कि कुछ प्रमुख अंतरिक्ष मिशनों में भारत के भारी लिफ्ट प्रक्षेपण यान जीएसएलवी एमके-3 की पहली परिचालन उड़ान शामिल है, जिसने भारत के दूसरे चंद्र मिशन, चंद्रयान-2 को कक्षा में स्थापित किया। इसके अलावा इसमें काटरेग्राफी उपग्रह काटरेसैट-3 और जीसैट-11 का प्रक्षेपण भी शामिल है।

राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह ने आगे कहा कि अंतरिक्ष विभाग ने अंतरिक्ष परिवहन प्रणाली, उपग्रह संचार और नेविगेशन, पृथ्वी अवलोकन, अंतरिक्ष विज्ञान और ग्रह अन्वेषण, क्षमता निर्माण और अंतरिक्ष-आधारित अनुप्रयोगों के क्षेत्रों में अल्पकालिक और दीर्घकालिक योजनाएं तैयार की हैं।