पिंकी ईरानी को धनशोधन मामले में न्यायिक हिरासत में भेजा गया

नई दिल्ली। करोड़ों रुपए के धनशोधन और लोगों को डराने धमकाने के मामले में जेल में बंद स्वयंभू भगवान सुकेश चंद्रशेखर की कथित सहयोगी पिंकी ईरानी को राजधानी की एक विशेष अदालत ने मंगलवार को तीन जनवरी तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया । आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी है। विशेष सरकारी अभियोजक अतुल त्रिपाठी और मोहम्मद फराज ने अदालत से आग्रह किया कि उससे और पूछताछ की आवश्यकता नहीं है तथा उसे न्यायिक हिरासत में भेजा जाए। इस आग्रह के बाद अदालत ने उसे न्यायिक हिरासत में भेजने का आदेश दिया।

प्रवर्तन निदेशालय ने हाल ही में सुकेश और पिंकी का तिहाड़ जेल में आमना -सामना कराया था और उनसे कईं सवाल पूछे थे। इस मामले में निदेशालय ने अदालत से अनुमति ली थी और जिस समय उसका सुकेश से आमना- सामना कराया गया था वह प्रवर्तन निदेशालय की हिरासत में थी।

प्रवर्तन निदेशालय ने अदालत में दायर आरोप पत्र में कहा था कि पिंकी ने ही बॉलीवुड अभिनेत्री जैकलीन फर्नाडीस और सुकेश की मुलाकात कराई थी और वह इस मामले में जानता चाहता है कि किस प्रकार पिंकी उसकी अपराध करने में मदद किया करती थी।

प्रवर्तन निदेशालय ने कहा है कि हमारे पास बहुत प्रमाण हैं जो हमारे केस को और अधिक मजबूत करेंगे और जल्दी ही इस मामले में एक अनुपूरक आरोप पत्र दाखिल किया जाएगा। इस मामले में जैकलीन के अलावा नोरा फतेही ने भी गवाह के तौर पर अपने बयान दर्ज कराए हैं।

हालांकि अभी तक प्रवर्तन निदेशालय ने यह नहीं कहा है कि वह इन दोनों अभिनेत्रियों को आरोपी बनाएगा या नहीं। इस समय अनूपूरक आरोप पत्र दािखल करने के लिए प्रवर्तन निदेशालय कानूनी सलाह ले रहा है।