रवि भाटिया: शोबिज ने हमेशा समाज को मानवाधिकारों के बारे में शिक्षित किया है

मुंबई। आखिरी बार टेलीविजन शो ‘इश्क सुभान अल्लाह’ में नजर आए अभिनेता रवि भाटिया का मानना है कि एक माध्यम के रूप में शोबिज ने हमेशा समाज को मानवाधिकारों के बारे में शिक्षित किया है।

मानवाधिकार दिवस हर साल 10 दिसंबर को मनाया जाता है। अभिनेता इसे बढ़ावा देने में मनोरंजन उद्योग के योगदान पर जोर देते है।

वे कहते हैं कि मुझे शोबिज उद्योग का हिस्सा होने पर गर्व है, चाहे वह टीवी शो हो, बॉलीवुड फिल्में या वेब श्रृंखला, एक माध्यम के रूप में इसने हमारे समाज को हमेशा मानवाधिकारों के बारे में शिक्षित किया है।

उन्होंने लोगों को इसके नकारात्मक प्रभावों के बारे में समझाते हुए कहा कि यह लिंग, जाति, रंग, भाषा, धर्म, राजनीतिक या अन्य राय, राष्ट्रीय या सामाजिक मूल सहित कई आधारों पर भेदभाव हो, शोबिज ने इसके खिलाफ एक स्टैंड लिया है।

रवि को ‘जोधा अकबर’ और ‘दो दिल बंधे एक डोरी से’ जैसे शो में काम करने के लिए जाना जाता है।

वह आने वाली सीरीज ‘द डेविल्स डील’ में नजर आएंगे। उनका कहना है कि उन्हें अभिनय और ऐसे किरदार निभाने में मजा आता है जो सामाजिक कल्याण के लिए हों।

उन्होंने कहा कि मैं ऐसे पात्रों के लिए काम करना चाहता हूं जो मानव कल्याण को बढ़ावा दें और मानवाधिकारों को समझें।