दक्षिण की चार भाषाओं में ‘ब्रह्मास्त्र’ पेश करेंगे एस एस राजामौली

हैदराबाद। प्रसिद्ध फिल्ममेकर-निर्माता एस.एस. राजामौली दुनिया भर में अयान मुखर्जी की महाकाव्य फंतासी ‘ब्रह्मास्त्र’ को चार दक्षिणी भाषाओं-तमिल, तेलुगु, कन्नड़ और मलयालम में पेश करेंगे।

इससे पहले, करण जौहर ने राजामौली की ‘बाहुबली’ को देशभर के व्यापक बाजारों में प्रस्तुत किया था। इस इशारे पर प्रतिक्रिया देते हुए कि राजामौली ने दक्षिणी क्षेत्र में फिल्म तक पहुंचने में मदद करने की जिम्मेदारी ली है।

राजामौली ने कहा, “मैं वास्तव में चार दक्षिण भाषाओं में दुनिया भर के दर्शकों के लिए ‘ब्रह्मास्त्र’ पेश करने के लिए खुश हूं। ‘ब्रह्मास्त्र’ की कहानी अच्छी है, जो इसकी कहानी और प्रस्तुति में परिलक्षित होती है। कई मायनों में यह मुझे ‘बाहुबली’ की याद दिलाती है, जिसमें प्यार और जुनून का मेहनत शामिल हैं। मैंने अयान को ‘ब्रह्मास्त्र’ बनाने में समय लगाते देखा है। ठीक ऐसा ही मैंने ‘बाहुबली’ के लिए किया था।”

उन्होंने आगे कहा, “फिल्म पूरी तरह से आधुनिक तकनीक के साथ प्राचीन भारतीय संस्कृति के विषयों से मेल खाती है ।”

नागार्जुन अक्किनेनी ने कहा, “अयान और ‘ब्रह्मास्त्र’ की बेहद प्रतिभाशाली टीम के साथ काम करना एक शानदार अनुभव रहा है।”

उन्होंने कहा, “प्राचीन और आधुनिक भारत के इस संयोजन ने मुझे रोमाचिंत किया। श्री राजामौली को बोर्ड पर रखना सभी के लिए एक बड़ा सम्मान है। हम 2022 में अपने प्रशंसकों के लिए फिल्म पेश करने के लिए उत्सुक हैं।”

‘ब्रह्मास्त्र’ के निर्देशक अयान मुखर्जी ने कहा, “‘ब्रह्मास्त्र’ एक सपना है जिसे मैंने कई सालों से संजो कर रखा था। मैंने इसके लिए बहुत मेहनत की है। मैं इसे हमेशा याद रखूंगा।”

2022 की सबसे बहुप्रतीक्षित फिल्मों में से एक ‘ब्रह्मास्त्र’ 9 सितंबर, 2022 को दुनिया भर में रिलीज की जाएगी।