जटिलताओं में नहीं, सादगी से फिल्म करना चाहता हूं:अक्षय कुमार

मुंबई। हिंदी सिनेमा में अपने तीन दशक लंबे करियर में सुपरस्टार अक्षय कुमार कई ब्लॉकबस्टर फिल्मों का हिस्सा रहे हैं और उन्होंने कई प्रतिष्ठित किरदार निभाए हैं। हालांकि, राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता अभिनेता प्रतिस्पर्धा करने के विचार से खुद पर बोझ डालने के बारे में नहीं सोचते, और कहते हैं कि वह सादगी से फिल्में करना चाहते हैं न कि जटिलताओं के साथ।

अक्षय ने सिनेमा को कुछ अविस्मरणीय किरदार दिए हैं जैसे ‘हेरा फेरी’ से राजू, ‘ऐतराज’ में राज मल्होत्रा, ‘गरम मसाला’ से मकरंद ‘मैक’ गोडभोले, ‘सिंह इज किंग’ से हैप्पी सिंह, ‘सूर्यवंशी’ से डीसीपी वीर सूर्यवंशी और सज्जाद अली खान अपनी नवीनतम रिलीज ‘अतरंगी रे’ से लेकर ब्लॉकबस्टर हिट्स से भरे बैग में से कुछ का नाम ले सकते हैं।

क्या हर बार जब आप स्क्रीन पर आते है तो और अच्छा करने का दबाव आप पर रहता है?

अक्षय ने कहा कि नहीं, मेरे पास ऐसी कोई चीज नहीं है जो मेरे लिए, मेरे ऊपर कोई बोझ हो। मैं इसके बारे में नहीं सोचता। कोई दबाव नहीं है। मैं सिर्फ यह सोचता हूं कि मैं भविष्य में किस तरह की फिल्में कर रहा हूं या करना है। कल मुझे किस शूटिंग के लिए जाना है, मैं कौन सी भूमिका कर रहा हूं। मैं बस यही सोचना चाहता हूं मैं सादगी से फिल्में करना चाहता हूं, जटिलताओं में नहीं।

अक्षय की डायरी आगले साल के लिए पूरी भरी है। 54 वर्षीय स्टार की ‘पृथ्वीराज’, ‘बच्चन पांडे’, ‘रक्षा बंधन’, ‘राम सेतु’ और ‘ओएमजी 2: ओह माय गॉड2’ जैसी कई बैक-टू-बैक फिल्में रिलीज के लिए तैयार हैं।

अक्षय ने कहा कि मुझे अच्छा लगता है कि मेरे पास अगले साल लगभग 5-6 फिल्में हैं और मुझे नहीं पता कि मैं इसे कैसे करूंगा।

हाल में अक्षय की ‘अतरंगी रे’ डिज्नी प्लस हॉट स्टार पर डिजिटली रिलीज हुई है।