PM मोदी का बड़ा ऐलान, अब 15-18 साल के किशोरों को इस दिन से लगेगा कोरोना टीका

नई दिल्ली: देश में एक बार फिर बढ़ रहे कोरोना के मामले और नए वैरिएंट ओमिक्रॉन को लेकर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मादी ने शनिवार को देश को संबोधित करते हुए ऐलान किया कि अब 15-18 वर्ष के किशोरों को कोरोना टीका लगाया जाएगा. ये टीकाकरण नए साल में 3 जनवरी (सोमवार) से शुरू होगा। पीएम मोदी ने कोरोना वायरस को लेकर देश को सतर्क रहने को कहा है। उन्होंने देशवासियों से पैनिक न करने और सतर्क रहने को कहा है।

 

कोरोना के बढ़ते मामलों पर राष्ट्र को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि फ्रंटलाइन वर्कर्स, हेल्थकेयर वर्कर्स और कॉमरेडिटीज वाले वरिष्ठ नागरिकों के लिए एहतियाती खुराक भी लगाई जाएगी। एहतियाती खुराक से स्वास्थ्य सेवा और फ्रंटलाइन वर्कर्स का विश्वास मजबूत होगा। उन्होंने बिना घबराए ओमिक्रॉन पर जनता को आगाह भी किया।

पीएम मोदी ने देशवासियों को मास्क का भर पूरप्रयोग करने को कहा है। उनहोंने कहा कि हाथों को समय समय पर धोना इस बात को भूलना नहीं है। आज जब वायरस म्यूटेट हो रहा है तो हमारा आत्मविश्वास भी मल्टीप्लाई हो रहा है। हमारी इनोवेटिव स्पिरिट भी बढ़ रही है। आज देश के पास 18 लाख आइसोलेशन बेड्स हैं। 5 लाख ऑक्सीजन सपोर्टेड बेड्स भी हैं। 1 लाख 40 हजार आईसीयू बेड्स हैं। आईसीयू और नॉन आईसीयू बेड्स को मिला दें तो 90 हजार बेड्स बच्चों के लिए अवेलेबल हैं। आज देश में ऑक्सीजन प्लांट्स हैं। 4 लाख से ज्यादा ऑक्सीजन सिलेंडर देश में दिए गए हैं। राज्यों को पर्याप्त टेस्टिंग किट्स और दवाओं के बफर स्टॉक दिए जा रहे हैं।

भारत ने इस साल 16 जनवरी से अपने नागरिकों को वैक्सीन देना शुरू कर दिया था। ये देश के सभी नागरिकों का सामूहिक प्रयास और सामूहिक इच्छाशक्ति है कि आज भारत 141 करोड़ वैक्सीन डोज के अभूतपूर्व और बहुत मुश्किल लक्ष्य को पार कर चुका है। आज भारत की वयस्क जनसंख्या में 61 फीसदी से ज्यादा को दोनों डोज लग चुकी हैं। इसी तरह 90 फीसदी वयस्कों को वैक्सीन की एक डोज लगाई जा चुकी है। पीएम मोदी ने कहा कि टूरिज्म की दृष्टि से अहम राज्य गोवा, उत्तराखंड और हिमाचल ने 100 फीसदी सिंगल डोज का लक्ष्य हासिल कर लिया है।

हमारे देश में जल्द ही नेसल वैक्सीन और दुनिया की पहली डीएनए वैक्सीन शुरू होगी। वर्तमान में ओमिक्रॉन की चर्चा जोरों पर हैं। इसे लेकर स्थितियां अलग-अलग हैं और अनुमान भी अलग-अलग हैं। हमारे वैक्सीनेशन को आज जब 11 महीने पूरे हो चुके हैं। ऐसे में वैज्ञानिकों ने जो अध्ययन किया है। उस पर कुछ निर्णय भी लिए गए हैं। आज अटल जी का जन्मदिन है और क्रिसमस का त्योहार भी है। इसलिए कुछ महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए हैं। उन्होंने कहा कि भारतीय वैज्ञानिकों ने ओमाइक्रोन पर कड़ी नजर रखी है। इससे पहले आज, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्व प्रधान मंत्री और भाजपा के दिग्गज नेता अटल बिहारी वाजपेयी को उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि दी। 1924 में ग्वालियर में जन्मे वाजपेयी दशकों तक भाजपा का चेहरा रहे और वह पहले गैर-कांग्रेसी प्रधानमंत्री थे जिन्होंने अपना कार्यकाल पूरा किया।