महात्मा गांधी पर आपत्तिजनक टिप्पणी के बाद कालीचरण महाराज की मुश्किलें बढ़ीं

पुणे। छत्तीगसढ़ के रायपुर में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाले कालीचरण महाराज की मुश्किलें काफी बढ़ गई हैं। काली चरण महाराज को पकड़ने के लिए मुंबई पुलिस छत्तीसगढ़ पहुंच चुकी है। गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ में आयोजित दो दिवसीय धार्मिक सभा (धर्म संसद) में, कालीचरण महाराज ने कथित तौर पर राष्ट्रपिता के खिलाफ कुछ अपमानजनक बयान दिए थे और नाथूराम गोडसे की प्रशंसा भी कर दी थी। कालीचरण के इस बयान ने राजनैतिक सरगर्मी बढ़ा दी है।

काली चरण के खिलाफ पुणे, अकोला में महाराष्ट्र में कई पुलिस शिकायतें दर्ज की गई हैं, जिसमें ठाणे में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी डॉ जितेंद्र आव्हाड द्वारा एक मामला दर्ज किया गया है, जिसमें महाराष्ट्र के अकोला के रहने वाले कालीचरण महाराज को उनके बयानों के लिए गिरफ्तार करने की मांग की गई है।

पुलिस ने उन्हें गुरुवार सुबह खजुराहो से गिरफ्तार कर लिया, यहां तक कि महाराष्ट्र पुलिस उन्हें विभिन्न आरोपों के तहत हिरासत में लेने का इंतजार कर रही है।

यह मामला 28 दिसंबर को समाप्त हुई महाराष्ट्र विधानसभा में भी उठा, जब सत्तारूढ़ महा विकास अघाड़ी और विपक्षी भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने कालीचरण महाराज को उनके बयानों के लिए फटकार लगाई थी और उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की थी।