मुंबई में ओमिक्रॉन के बढ़ते खतरे के बीच: आज पहली से सातवीं के खुले स्कूल

मुंबई। मुंबई महानगर में ओमिक्रॉन के बढ़ते खतरे के बीच आज तकरीबन दो साल बाद फिर से पहली से सातवीं तक के स्कूल खुल गए हैं। हालांकि, बृहन्मुंबई महानगर पालिक (बीएमसी) ने बच्चों के स्कूल आने का फैसला वैकल्पिक रखा है यानी उन्हें स्कूल भेजने है या नहीं इसका अधिकार अभिभावकों को होगा।

उनकी उपस्थिति अनिवार्य नहीं करते हुए स्कूलों को ऑनलाइन क्लास का भी विकल्प देने को कहा है। बता दें कि राज्य में 4 अक्टूबर से 8वीं से 12वीं कक्षा की ऑफलाइन क्लास चल रही है। इसके बाद 1 दिसंबर से ग्रामीण क्षेत्रों में पहली से चौथी और शहरी क्षेत्र में पहली से सातवीं कक्षा तक की ऑफलाइन क्लास शुरू होने वाली थी, लेकिन ओमिक्रॉन के बढ़ते खतरे को देखते हुए यह फैसला टाल दिया गया था। इसका कुछ पैरेंट्स संगठनों ने विरोध किया था।

अब बीएमसी कमिश्नर इकबाल सिंह चहल ने प्राथमिक स्कूल दोबारा शुरू करने की अनुमति दे दी है। बुधवार सुबह से ही मुंबई के लगभग सभी स्कूलों में स्टूडेंट्स की भारी भीड़ नजर आई। बच्चे स्कूल में मास्क, टेम्परेचर स्क्रीनिंग और हाथ सैनिटाइज़्ड करके प्रवेश कर रहे थे। तकरीबन दो साल बाद स्कूल पहुंच बच्चे बहुत खुश नजर आए।