Delhi: किडनैपिंग के बाद बेटे को छुड़ाने के लिए पिता को 50 लाख की फिरौती देनी पड़ी

नई दिल्ली: देश की राजधानी में एक बच्चे की किडनैपिंग के बाद उसके पिता से 50 लाख की फिरौती की मांग की गई थी। पिता ने बेटे को बचाने की खातिर किडनैपरों को फिरौती दे दी। किडनैपरों ने फिरौती लेने के बाद बेटे को छोड़ दिया।

यह घटना 17 दिसंबर को हुई। पीड़ित की पहचान शालीमार बाग निवासी किंशुक अग्रवाल के रूप में हुई है। वह अपने दो कर्मचारियों के साथ अपनी कार से गाजीपुर फूल मंडी गया था। गाजीपुर मंडी में एक अज्ञात व्यक्ति ने पीड़ित को घेर लिया और जबरन उसकी कार में घुस गया।

किंशुक अग्रवाल के पिता द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत के अनुसार, अपहर्ता ने पीड़ित की सुरक्षित वापसी के लिए एक करोड़ रुपये की फिरौती की मांग की। पुलिस ने कहा, राशि बाद में 50 लाख रुपये तय की गई।

शिकायतकर्ता पिता ने बेटे को अगवा करने वालों को 50 लाख रुपये का भुगतान किया और उसे सुरक्षित छुड़ा लिया। लेन-देन अशोक विहार इलाके में हुआ।

जैसे ही किंशुक को सुरक्षित बचा लिया गया, पुलिस उसके घर पहुंची और उसका बयान दर्ज किया। पुलिस ने बताया कि उसने भारतीय दंड संहिता की धारा 364ए (अपहरण या फिरौती के लिए अपहरण) और 506 (आपराधिक धमकी के लिए सजा) और आर्म्स एक्ट की धारा 25 और 27 के तहत मामला दर्ज किया है। एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि इस मामले में फिलहाल जांच जारी है।