भारत: एक दिन में 10 हजार से अधिक कोरोना केस आए सामने

नई दिल्ली। दुनिया के कई देशों में कोरोना ने लोगों में फिर से दहशत पैदा कर दी है। हालांकि अभी तक भारत में कोरोना के केस बहुत सीमित मात्रा में थे लेकिन कुछ दिनों से इन्होंने तेजी से बढ़ना शुरू कर दिया है। हाल ही में एक दिन 10 हजार से ज्यादा केस मिलना चिंता का विषय हैं जबकि पिछले सप्ताह रोज 8 हजार केश दर्ज हो रहे थे।

भारत में कोरोना केस लगातार बढ़ने का यह सिलसिल पिछले 33 दिनों बाद फिर से शुरू हो गया है। आंकड़ों के अनुसार अब एक दिन में ही 10,000 से ज़्यादा मामले सामने आने लगे हैं। पिछले 24 घंटे में देश में 13 हजार से ज्यादा कोरोना केस दर्ज किए गए हैं। ऐसे में देश को पूरी तरह से अलर्ट रहने की जरूरत है। यह बात स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कही है।

मुंबई में 144 धारा लागू, नए साल के जश्न पर रोक

देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में एक दिन में 2500 से अधिक कोरोना संक्रमित मिलने के बाद मुंबई में नए साल के जश्न पर रोक लगा दी गई है। बीएमसी ने नए साल के जश्न के दौरान संक्रमण के खतरे को देखते हुए पूरे शहर में 7 जनवरी तक धारा 144 लगा दी गई है। अब एक साथ 5 से ज्यादा लोगों के मौजूद होने पर रोक रहेगी। इसी के साथ शहर के सभी होटल्स, बार, पब, क्लब और रेस्टोरेंट में होने वाली नए साल के जश्न और पार्टी पर भी रोक रहेगी।

कोरोना के कारण फिर बिगड़ने लगे हालात

पिछले हफ्ते से देश में रोजाना 8 हजार से ज्यादा मामले दर्ज किए जा रहे थे लेकिन 26 दिसंबर के बाद से देश में रोजाना 10 हजार से ज्यादा केस सामने आ रहे हैं। महाराष्ट्र और केरल में 10,000 से ज़्यादा सक्रिय मामले हैं। मिजोरम के 8 जिलों में और अरुणाचल प्रदेश और बंगाल के एक-एक जिले में एक हफ्ते का पॉजिटिविटी रेट 10% से ज्यादा है। 14 जिलों में एक हफ्ते में केस मिलने का पॉजिटिविटी रेट 5-10% के बीच है। देश में ओवरऑल पॉजिटिविटी रेट 0.92% है।