चारधाम प्रोजेक्ट को सुप्रीम कोर्ट की मंजूरी, चीन सीमा तक सेनाओं की पहुंच होगी आसान

नई दिल्ली। बहुत जल्द कूटनीतिक रणनीति के तहत चारधाम प्रोजेक्ट के अंतर्गत ऋषिकेश से माना, ऋषिकेश से गंगोत्री और ऋषिकेश से पिथौरागढ़ तक डबल लेन की सड़क बनेंगीं। सुप्रीम कोर्ट ने इस प्रोजेक्ट के तहत दो लेन की सड़क बनाने को मंजूरी दे दी है।

सुप्रीम कोर्ट ने सेनाओं के लिए इसके रणनीतिक महत्व को देखते हुए डबल लेन का रोड बनाने को स्वीकृति दी है। चीन के साथ हाल के दिनों में बने तनाव के मद्देनजर इस सड़क के जरिए सेनाओं को चीन की सीमा तक पहुंचने में आसानी होगी। कोर्ट ने अपने 8 सिंतबर 2020 के आदेश को संशोधित करते हुए प्रोजेक्ट को मंजूरी दी है।

चारधाम प्रोजेक्ट के तहत ऋषिकेश से माना, ऋषिकेश से गंगोत्री और ऋषिकेश से पिथौरागढ़ तक डबल लेन के रोड बनेंगे। सेनाओं के लिए ये तीनों ही रोड बेहद अहम हैं, क्योंकि इन तीनों सड़कों से उसे चीन की सीमा तक पहुंचने के लिए सीधी कनेक्टिविटी मिल जाएगी। इन सड़कों से भारी सैन्य साजो-सामान को भी आसानी से बॉर्डर तक ले जाया जा सकेगा।