नए वर्ष पर भोजपुर पहुंचेंगे 1 लाख लोग, कुछ खास होगा साल का पहला दिन

भोपाल। भोपाल के पास स्थित भोजपुर का पर्यटन और धार्मिक दोनों ही दृष्टि से महत्वपूर्ण स्थान है। लोगों के अधिक संख्या में पहुंचने के मद्देनजर शिवमंदिर पर नए वर्ष पर कुछ खास इंतजाम किए गए हैं। एक अनुमान के अनुसार हर साल यहां करीब 1 लाख लोग पहुंचते हैं और इस साल भी इतने ही लोगों के पहुंचने की संभावना है।

अगर आप भी भोजपुर घूमने जाने का मन बना रहे हैं तो बहुत अच्छा है। लेकिन कोरोना के चलते कुछ बातों का ध्यान रखना बेहद जरूरी है। सबसे पहले तो आपको मास्क अनिवार्य रूप से पहनना होगा। साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का भी ख्याल रखना होगा।

1 जनवरी को मंदिर सुबह 5 बजे खुलेगा और रात 8 बजे बंद होगा। करीब 3 क्विंटल फूलों से बाबा का श्रृंगार किया जाएगा। यहां 1 जनवरी को पार्किंग का भी विशेष इंतजाम किया गया है। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल से 21 किलोमीटर दूर स्थित भोजपुर पर्यटन और धार्मिक दोनों ही दृष्टिकोण से प्रसिद्ध् है।

यहां का शिव मंदिर सबसे ऊंचे शिवलिंग के लिए जाना जाता है। 22 फीट ऊंचा यह शिवलिंग दुनिया का सबसे ऊंचा और विशालतम है। इतना ही नहीं, यह शिवलिंग एक ही विशाल पत्थर से बना है। पुजारी माखन गिरी गोस्वामी ने बताया, 1 जनवरी को पूजा-अर्चना के बाद सुबह 5 बजे श्रद्धालुओं के लिए मंदिर खुल जाएगा, जो रात 8 बजे तक खुला रहेगा।

नए साल पर मंदिर करीब 2 घंटे ज्यादा खुलेगा। श्रद्धालुओं की भीड़ को देखते हुए पार्किंग के विशेष इंतजाम किए गए हैं। मंदिर से करीब 500 मीटर की दूरी पर टू व्हीलर और फोर व्हीलर गाड़ियों की पार्किंग होगी। इसके लिए 3 से 4 स्थान तय किए गए हैं।