भोपाल लाऊखेड़ी सीवेज हादसा, आयुक्त को सोंपी जाएगी जांच रिपोर्ट

भोपाल। भोपाल के लाऊखेड़ी क्षेत्र में करीब 20 फीट गहरे सीवेज चैंबर में हुई इंजीनियर और एक मजदूर की मौत के मामले में नगर निगम कमिश्नर केवीएस चौधरी कोलसानी मंगलवार को रिपोर्ट सौंपेंगे। वे संभागायुक्त और निगम प्रशासक गुलशन बामरा को रिपोर्ट देंगे। इसके बाद यह रिपोर्ट नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेंद्र सिंह के पास पहुंचेगी। मंत्री ने कड़ा रुख अपनाते हुए जांच के आदेश दिए थे। मंत्री अंकिता कंस्ट्रक्शन कंपनी पर बड़ी कार्रवाई के आदेश दे सकते हैं।

बता दें कि खुले चैंबर में कंपनी के इंजीनियर दीपक सिंह और मजदूर भारत सिंह की मौत हुई थी। दोनों सीवेज के मेजरमेंट के लिए गए थे। इसी दौरान हादसे का शिकार बन गए थे। संभवत: चैंबर में जहरीली गैस की वजह से उनकी मौत हो गई। मामले में गांधी नगर थाना पुलिस ने मर्ग कायम किया। वहीं, निगम ने कंपनी के विरुद्ध कार्य में लापरवाही बरतने और सुरक्षा मानकों का पालन न करने पर एफआईआर दर्ज कराई है।

कमेटी के सामने आई कंपनी की लापरवाही

लाऊखेड़ी में हुए हादसे के कुछ देर बाद ही मंत्री भूपेंद्र सिंह ने संभागायुक्त बामरा को 24 घंटे के भीतर जांच कराकर रिपोर्ट देने का कहा था। इसके बाद ही निगम कमिश्नर कोलसानी ने कमेटी बनाई। प्रारंभिक जांच में अंकिता कंस्ट्रक्शन की बड़ी लापरवाही सामने आई है। बिना सुरक्षा उपकरणों के इंजीनियर और मजदूर को भेजा गया। विस्तृत रिपोर्ट मंगलवार को सौंप दी जाएगी। निगम कमिश्नर कोलसानी ने बताया, शाम तक रिपोर्ट संभागायुक्त को दे देंगे।