किताबों का संसार जिंदा रखेगा इतिहास, मोती मस्जिद परिसर में खुलेगी डिजिटल लाइब्रेरी

विधायक आरिफ मसूद ने किया लाइब्रेरी के लिए शिलान्यास

सारांश न्यूज़ डेस्क, भोपाल
किताबें हमारे इतिहास से वाकिफ कराने का जरिया भी हैं और इन्हीं के माध्यम से हम भविष्य की मजबूत इमारत भी खड़ी कर सकते हैं। लोगों में कम होती जा रही पढ़ने की रुचि की कई वजह हैं, इनमें एक बड़ा कारण लाइब्रेरी कल्चर का तेजी से कम होना भी है। इसी कमी को दूर करने की दिशा में एक पहल की जा रही है।

विधायक आरिफ मसूद ने ये बात कही। उन्होंने शुक्रवार को पुराने शहर में स्थित मोती मस्जिद Moti Masjid परिसर में एक डिजिटल लाइब्रेरी की स्थापना के लिए शिलान्यास Foundation stone laid for setting up of digital library किया। मसूद ने बताया कि इस लायब्रेरी को खोलने का मक़सद नई नस्ल को तारीख़ी मालूमात मुहैया कराना है।

उन्होंने बताया कि इस डिजिटल लाइब्रेरी में रियासत भोपाल से जुड़ी अहम जानकारी जैसे भोपाल नवाब, बेग़मात, स्कॉलर्स, बिल्डिंग, आजादी की लड़ाई लड़ने वाले स्वतंत्रता संग्राम सेनानी एवं इतिहास से जुड़ी अन्य अहम जानकारियों को एकत्रित कर यहां आने वालों के लिए उपलब्ध करवाया जायेगा। इस अवसर पर रिलायबल ग्रुप के डॉ.अब्दुल ताहिर, शाही औकाफ सचिव आज़म तिर्मिजी, असद मदीना सहित शहर के गणमान्य नागरिक मौजूद थे।