मध्यप्रदेश में भी कोरोना की रफतार हुई तेज, प्रत्येक 10 केस में 8 भोपाल-इंदौर के

भोपाल। जिस तरह देश के अन्य प्रदेशों में कोरोना की रफतार बढ़ रही उससे कुछ कम भले है, लेकिन मध्यप्रदेश में भी कोरोना की रफतार लगातार बढ़ने लगी है। इसका अंदाजा इसी से लगाया जा रहा सकता है कि पिछले सप्ताह में केस करीब दो गुने हो गए हैं। इनमें 70 फीसदी से ज्यादा केस सिर्फ इंदौर और भोपाल में हैं।

ये आंकड़े कोरोना को लेकर मंगलवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुलाई समीक्षा बैठक में सामने आए हैं । यह आंकड़े स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने सीएम के सामने बैठक में पेश किए। रिपोर्ट के द्वारा मिली जानकारी के अनुसार पिछले एक सप्ताह में मध्यप्रदेश में रोजाना औसतन 34 से अधिक कोरोना पॉजिटिव मिल रहे हैं। इस हफ्ते के पहले हर दिन औसत 20 केस मिल रहे थे। लेकिन अभी कोरोना से सर्तकता वाली बात यह है कि 24 घंटे में जो नए केस सामने आए हैं उनमें से 77 पूर्णत: वैक्सीनेटेड व्यक्ति थे।

प्रदेश में 10 से 16 नवंबर के बीच केवल 63 नए कोरोना पॉजिटिव केस मिले थे और एक्टिव केस की संख्या 78 थी लेकिन 21 से 28 दिसंबर के बीच यह केस बढ़कर 236 हो गए हैं। वहीं 29 दिसंबर को एक्टिव केस की संख्या बढ़कर 285 पहुंच गई है। हालांकि इस बीच, 30 नवंबर से 7 दिसंबर के बीच नए केस की संख्या में गिरावट आई थी।

हालांकि प्रदेश में कोरोना के बढ़ते पॉजिटिव को देखते हुए सरकार भी अलर्ट है और सोशल डिस्टेंटिंग की शुरुआत करते हुए नाइट कर्फ्यू लगाया है। कोरोना के केस बढ़ने के मौतों का आंकड़ा भी बढ़ने लगा है। पिछले 7 दिन में 3 मौत की रिपोर्ट हुई है। इसमें इंदौर में 2 और भोपाल में 1 कोरोना मरीज की मौत हुई है।

प्रदेश में पिछले एक सप्ताह में मिले नए पॉजिटिव में 70 फीसदी से अधिक मरीज केवल इंदौर और भोपाल शहर के हैं। इसमें 116 मरीज यानी 49 प्रतिशत इंदौर के हैं और 68 यानी 29 प्रतिशत भोपाल से हैं।