Viral News : गुना के शासकीय स्कूल में टॉयलेट साफ कर रहीं बेटियां

गुना जिला के चकदेवपुर गांव के प्राथमिक-माध्यमिक स्कूल का मामला

सारांश न्यूज़ डेस्क, भोपाल
गुना जिले Guna District से बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान की पोल खोलती तस्वीर Picture exposing the Beti Bachao-Beti Padhao campaign सामने आई है। जिले के बमोरी तहसील अंतर्गत चकदेवपुर गांव के प्राथमिक-माध्यमिक स्कूलों Primary-Secondary Schools of Chakdevpur Village में बेटियां टॉयलेट साफ करने को मजबूर हैं। जिन हाथों में किताबें होनी चाहिए उनमें झाड़ू थमा दी गई। इससे भी शर्मनाक बता ये है कि मामला सामने आने के बाद जिम्मेदार अब पल्ला झाड़ते नजर आ रहे हैं।

रिपोर्ट्स के मुताबिक चकदेवपुर गांव के प्राथमिक-माध्यमिक स्कूल में टॉयलेट साफ करने के लिए कोई सफाईकर्मी नहीं है। ऐसे में स्कूल प्रशासन द्वारा छात्राओं से ही यह काम करवाया जाता है। छात्राएं झाड़ू लेकर टॉयलेट साफ करती हैं और उसे धोने के लिए बाहर लगे हैंडपंप से बाल्टी में पानी भर कर लाती हैं। यह सिलसिला काफी समय से चल रहा है।

स्कूल की प्रिंसिपल इंदिरा रघुवंशी ने इस मामले पर मीडिया से बात करने से इनकार कर दिया है। वहीं बीआरसीसी सतीश शर्मा, जो कई स्कूलों के प्रभारी हैं ने अपनी जिम्मेदारी से पल्ला झाड़ते हुए कहा कि सफाईकर्मी की व्यवस्था पंचायत की होती है। मामले पर ब्लॉक एजुकेशन ऑफिसर श्याम कुमार वशिष्ठ ने कहा कि हम बीआरसीसी को नोटिस भेजकर जवाब तलब करेंगे।