Lecture on Evolution : शिक्षकों ने किया भीमबेटका का भ्रमण

इस कार्यक्रम में कई विद्यालयों के 25 शिक्षकों ने भाग लिया। भारतीय पुरातत्व सर्वक्षण, भोपाल मण्डल के अधीक्षण पुरातत्वविद्, डॉ. मनोज कुमार कुर्मी ने जीवन का उद्विकास विषय पर व्याख्यान दिया।

Lecture on Evolution
Lecture on Evolution

भोपाल। भीमबेटका में  मृदा चक्र एवं जीवन का उद्विकास विषय पर शिक्षकों के लिए एक दिवसीय कार्यक्रम का आयोजन किया गया। यह कार्यक्र्म क्षेत्रीय प्राकृतिक विज्ञान संग्रहालय एवं भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण, भोपाल मण्डल के संयुक्त तत्वावधान में विश्व धरोहर सप्ताह-2022 के तहत किया गया।

इस कार्यक्रम में कई विद्यालयों के 25 शिक्षकों ने भाग लिया। भारतीय पुरातत्व सर्वक्षण, भोपाल मण्डल के अधीक्षण पुरातत्वविद्, डॉ. मनोज कुमार कुर्मी ने जीवन का उद्विकास विषय पर व्याख्यान दिया। क्षेत्रीय प्राकृतिक विज्ञान संग्रहालय, भोपाल के प्रभारी वैज्ञानिक डॉ. मनोज कुमार शर्मा ने मृदा चक्र और जीवन – पर्यावरण के लिए जीवनशैैली विषय पर व्याख्यान दिया।

डॉ. नारायण व्यास, पूर्व अधीक्षण पुरातत्वविद ने भीमबेटका के शैल चित्रों और उत्खनन की विधियों आदि के आधार पर वनस्पतियों एवं प्राणियों के उद्विकास के बारे में विस्तार से बताया। कार्यक्रम के अंत में प्रतिभागी शिक्षकों को प्रतिभागिता प्रमाण पत्र भी प्रदान किया गया।

MPPSC में 87 प्रतिशत पद यानी 133 पदों के लिए चयन परिणाम होंगे जारी

बच्चों के सर्वोत्तम हित में कानूनों का क्रियान्वयन हो : पुलिस आयुक्त

भोपाल। पुलिस अफ सर बच्चों के संरक्षण कानूनों को सर्वोपरिता से क्रियान्वित करें, साथ ही जोन स्तर पर झुग्गी बस्तियों क्षेत्र एवं कॉलोनी में बच्चों के संरक्षण हेतु कार्यशाला आयोजित करें। बच्चों के सर्वोत्तम हित में कानूनों का क्रियान्वयन हो। यह बात पुलिस आयुक्त मकरंद देउस्कर ने एक कार्यशाला को संबोधित करते हुए कही।

भोपाल पुलिस कमिश्नरेट, यूनिसेफ मप्र एवं आरंभ संस्था के सहयोग से बुधवार को नगरीय पुलिस भोपाल के अधिकारियों के लिए कार्यशाला का आयोजन किया गया। किशोर न्याय अधिनियम एवं लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम के नवीन संशोधन एवं आदर्श नियम विषय पर आयोजित कार्यशाला में मुख्य अतिथि पुलिस आयुक्त मकरंद देउस्कर रहेे। कार्यशाला के प्रारंभ में पुलिस उपायुक्त मुख्यालय विनीत कपूर ने भोपाल जिले में विगत 1 वर्ष में पंजीकृत बच्चों से संबंधित अपराधों एवं कार्यवाही को डाटा के रूप में प्रस्तुत किया गया, ताकि भोपाल जिले की स्थिति को स्पष्ट रूप से समझा जा सके। कार्यशाला को आगे बढ़ाते हुए अर्चना सहाय ने पॉक्सो अधिनियम से संबंधित प्रावधानों एवं प्रक्रियाओं पर प्रतिभागियों से चर्चा की।

अनुपस्थित अभ्यर्थियों को अंतिम अवसर

भोपाल। स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा उच्च माध्यमिक शिक्षक पद के लिए दस्तावेज सत्यापन कराने के लिए अनुपस्थित अभ्यर्थियों को अंतिम दिया गया है। आयुक्त लोक शिक्षण अभय वर्मा ने बताया कि ऐसे अभ्यर्थी जिनके द्वारा दस्तावेज सत्यापन नहीं कराया गया है, उन्हें अंतिम अवसर दिया जा रहा है। अभ्यर्थी 25 नवम्बर 2022 को उनके लिए निधाज़्रित केन्द्र पर उपस्थित होकर दस्तावेज सत्यापन करा सकते हैं। 25 नवम्बर को दस्तावेज सत्यापन नहीं कराने वाले अभ्यर्थियों की अभ्यर्थिता मान्य नहीं होगी।