राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय : परीक्षाओं के लिए दो उड़नदस्ते तैनात, इस बार सभी सदस्य पूर्व आईपीएस

आठ सदस्यों में एक भी पूर्व आईएएस नहीं, 50 हजार विद्यार्थी होंगे शामिल

7th semester exams started
7th semester exams started

Bhopal News: राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (आरजीपीवी) ने बीटेक, बी फार्मा और बीआर्क की सातवें और अंतिम सेमेस्टर की परीक्षाएं शुरू कर दी है। इस बार सभी परीक्षाएं ऑफ लाइन मोड में आयेाजित की जाएंगी। ऐसे में आरजीपीवी प्रबंधन ने बेहतर इंतजाम किए हैं।

खास बात यह भी कि इन परीक्षाओं में नकल पर रोक लगाने के लिए प्रबंधन ने दो उडऩदस्ते तैयार किए गए हैं। जिनमें करीब आठ सदस्यों को शामिल किया गया है। इसमें लगभग सभी सदस्य पूर्वआईपीएस हैं। इस बार आरजीपीवी ने उडऩदस्तों से पूर्व आईएएस को हटा दिया है।

उल्लेखनीय है कि इन परीक्षाओं में करीब 50 हजार विद्यार्थी शामिल हो रहे हैं। पूर्व की परीक्षा में बड़ी संख्या में विद्यार्थियों का परीक्षा परिणाम बिगड़ा था। ऐसे में परीक्षाओं में विद्यार्थी नकल सामग्री का इस्तेमाल कर सकते हैं। इस संभावना को देखते हुए आरजीपीवी ने आठ पूर्व आईपीएस का उडऩदस्ता तैयार किए है। हालांकि तीन साल पहले तक उडऩदस्तों में पूर्व आईएएस भी शामिल किए जाते थे। अब सभी पूर्व आईएएस को उडऩदस्तों से बाहर कर दिया गया है। इसलिए अब सभी सदस्य पूर्व आईपीएस ही बचे हैं।

दो दिसंबर तक चलेंगी परीक्षाएं –

उल्लेखनीय है कि बीटेक, बी फार्मा और बीआर्क की परीक्षाएं सात दिसंबर तक चलेंगी। इसमें बीआर्क सातवें व आठवें सेमेस्टर की परीक्षाएं सात दिसंबर तक, बीटेक सातवें सेमेस्टर की परीक्षाएं 28 नवंबर और आठवें सेमेस्टर की परीक्षाएं 23 से 29 नवंबर तक चलेंगी। वहीं, बी फार्मा सातवें व आठवें सेमेस्टर की परीक्षाएं दो दिसंबर तक चलेंगी।

Assembly winter session: 10 हजार करोड़ से अधिक का अनुपूरक बजट लाएगी MP सरकार

NEXT NEWS

नवीन आदर्श महाविद्यालयों में 536 पदों के लिए स्वीकृति आदेश जारी

भोपाल। राज्य शासन ने रूसा परियोजना के अंतर्गत 8 नवीन आदर्श स्नातक महाविद्यालयों के लिए कुल 536 पदों के सृजन की स्वीकृति आदेश जारी कर दिए हैं। इनमें 336 शैक्षणिक और 200 अशैक्षणिक पद हैं। इन कॉलेजों में दमोह, राजगढ़, बड़वानी, छतरपुर, गुना, खण्डवा, सिंगरौली, एवं विदिशा के शामिल हैं।

उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा है कि प्रदेश में पहली बार शासकीय महाविद्यालय में योग विज्ञान के नियमित पद स्वीकृत किए गए हैं। उन्होंने कहा है कि इन महाविद्यालयों में अगले अकादमिक वर्ष से अध्यापन आरंभ होगा। नए विद्यालयों के 5 जिलों में नवीन भवन बन कर तैयार है। नीति आयोग की अनुशंसानुसार सभी आदर्श महाविद्यालय आकांक्षी जिलों में खोले जा रहे है।

यह हैं पद –

आदेशानुसार शैक्षणिक पद मे प्राचार्य के 8 सहायक प्राध्यापक के 312, क्रीडाधिकारी और ग्रंथपाल के 8-8 पद कुल 336 पद स्वीकृत किए गए है। नियमित अशैक्षणिक पद में मुख्य लिपिक लेखापाल, सहायक ग्रेड-1, सहायक ग्रेड-2 के प्रत्येक 8 पद, सहायक ग्रेड-3 के 16, प्रयोगशाला तकनीशियन और परिचारक के 40-40 पद, बुक लिफ्टर के 8, भृत्य के 32 तथा स्वीपर और चौकीदार के 16-16 पद स्वीकृत किए गए है।