पहली बार: भाजपा शासित राज्यों से 11 मुख्यमंत्री अयोध्या पहुंचे, राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्‌डा भी मौजूद

लखनऊ । पहली बार कुछ ऐसा होने जा रहा है कि जिसकी वजह से अयोध्या का नाम अब सियासी गलियारों में काफी चर्चा में है। दरअसल 11 भाजपा शासति राज्यों के मुख्यमंत्री और आठ उपमुख्यमंत्री पहली बार एक साथ रामलला के दर्शन के लिए आ रहे हैं। इस दौरान खुद भाजपा के प्रमुख राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा भी सभी मुख्यमंत्रियों के साथ मौजूद रहेंगे।

साल 2019 में सुप्रीम कोर्ट के राम मंदिर पर दिए गए ऐतिहासिक फैसले के बाद ये पहला मौका है जब नड्‌डा सभी भाजपा शासित प्रदेशों के CM के साथ अयोध्या पहुंचेंगे। अयोध्या में यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सभी का स्वागत करेंगे। पुलिस और जिला प्रशासन के अफसरों की बड़ी टीम इस पूरे कार्यक्रम में व्यवस्था संभालने में लगे हैं।

ये है कार्यक्रम
सभी प्रदेशों के CM और उप मुख्यमंत्री बुधवार को हवाई मार्ग से चलकर अयोध्या हवाई पट्टी पहुंचेंगे। यहां से उन सभी को हाइवे स्थित होटल लाया जाएगा। यहां विश्राम के बाद सभी वीवीआईपी सरयू दर्शन के लिए जाएंगे। यहां के बाद रामपैड़ी का अवलोकन करेंगे। पुन: वह सभी हनुमानगढ़ी में आराध्य का दर्शन करेंगे। दूसरी पाली में रामजन्मभूमि में विराजमान रामलला के दरबार में हाजिरी लगाएंगे । परिसर में उनका स्वागत ट्रस्ट की ओर से किया जाएगा और दर्शन के बाद राम मंदिर निर्माण की प्रगति से भी अवगत कराया जाएगा।

ये मेहमान पहुंचेंगे
जिलाधिकारी नितीश कुमार ने बताया कि बुधवार को देश के 11 राज्यों के मुख्यमंत्री-उपमुख्यमंत्री और अन्य वीवीआईपी अयोध्या धाम आ रहे हैं। इनमें मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लव देव, गोवा के मुख्यमंत्री डा. प्रमोद सावंत, हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर, हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, कर्नाटक के मुख्यमंत्री वासव राज बोम्मई, असम के मुख्यमंत्री हेमानंद विश्वा शर्मा, गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेन्द्र भाई पटेल

अरूणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पेमा खांडू, उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, मणिपुर के मुख्यमंत्री एन. विशेन सिंह सहित उपमुख्यमंत्री गोवा चन्द्रकांत कावेलकर, उपमुख्यमंत्री बिहार सुश्री रेनू देवी एवं तारकिशोर प्रसाद, उपमुख्यमंत्री नागालैंड यथंगो पट्टन, उपमुख्यमंत्री त्रिपुरा जिष्णु देव शर्मा, उपमुख्यमंत्री अरूणांचल प्रदेश चोनामीन, उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य एवं डा. दिनेश शर्मा व महापौर मुम्बई किशोरी पेडेकर के आने का कार्यक्रम है।