वनडे कप्तान के रूप में कोहली का सफलता प्रतिशत धोनी, गांगुली और अजहर से भी ज्यादा

virat kohli

मुंबई। बीसीसीआई ने विराट कोहली को हटाकर रोहित शर्मा को वनडे का कप्तान बना दिया है, लेकिन विराट भारत के सबसे सफल कप्तानों से एक हैं।
विराट ने 95 वनडे मैचों में देश की कप्तान की है। इनमें से भारत ने 65 में जीत दर्ज की है, जबकि 27 में हार का सामना करना पड़ा। वहीं एक मैच टाई रहा है तो दो का परिणाम नहीं निकल सका। पूर्णकालिक कप्तान के रूप में विराट कोहली का वनडे में सफलता प्रतिशत 70.43 है। इस मामले में विराट एमएस धोनी, मोहम्मद अजहरउद्दीन और सौरव गांगुली से काफी आगे हैं।


धोनी ने की है 200 मैचों में कप्तानी
वहीं बात वनडे में कप्तान करने की करें तो एमएस धोनी से सबसे ज्यादा 200 बार भारत की कप्तानी की है। धोनी की कप्तानी में भारत ने 110 मैच जीते हैं। इनमें 2011 का वनडे विश्वकप फाइनल भी शामिल है। धोनी की कप्तानी में 74 मैचों में हार मिली है। पांच मैच टाई रहे तो 11 का कोई परिणाम नहीं निकल सका। धोनी का सफलता प्रतिशत 59.52 फीसदी है। कप्तानी करने के मामले में अजहर दूसरे नंबर पर हैं, उन्होंने 174 मैचों में भारत की कप्तानी की है। इनमें 90 जीत, 76 हार शामिल हैं। वहीं दो मैच टाई रहे और दो में कोई परिणाम नहीं निकला। अजहर का सफलता प्रतिशत 54.16 है। बीसीसीआई अध्यक्ष और पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने 146 मैचों में भारत की कप्तानी की है। उन्होंने भारत को 76 मैचों में जीत दिलाई तो 65 में हार का सामना करना पड़ा। पांच मैचों का कोई परिणाम नहीं निकला। सौरव गांगुली का सफलता प्रतिशत 53.90 है।
रोहित शर्मा इस मामले में विराट से आगे
रोहित शर्मा को भले ही बुधवार को अधिकृत रूप से पूर्णकालिक कप्तान बनाने की घोषणा की गई है। लेकिन वे इससे पहले भी विराट की अनुपस्थिति में भारत की दस मैचों में कप्तानी कर चुके हैं। रोहित की कप्तानी में भारत ने 8 मैचों में जीत हासिल की है तो दो में हार मिली है। रोहित का सफलता प्रतिशत 80 फीसदी है तो विराट का 70.43 प्रतिशत है। हालांकि पूर्णकालिक कप्तान के रूप में भारत ने विराट कप्तानी में कई सफलताएं हासिल की हैं।
विराट नहीं दिला सके कोई बड़ी ट्रॉफी
विराट कोहली का एक खिलाड़ी और कप्तान के रूप मे शानदार रिकॉर्ड है, लेकिन वह भारत को एक भी आईसीसी टूर्नामेंट में जीत नहीं दिला सके हैं। विराट की कप्तानी में भारत ने वनडे, टी-20 विश्वकप खेला, लेकिन सफलता नहीं मिली। इसी साल जून में हुई टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में विराट की कप्तानी में भारत को न्यूजीलैंड से हार का सामना करन पड़ा। हालांकि इस मामले में धोनी सबसे आगे हैं। धोनी ने टी-20, वनडे विश्वकप भारत को दिलाए हैं तो चैंपियंस ट्रॉफी भी भारत ने उनके नेतृत्व में जीती है। वहीं टेस्ट चैंपियनशिप की गदा भी हासिल की है।