बाइडेन के एडवाइजरी कमिशन में भारतीय मूल के 4 सलाहकार होंगे, भारतीयों पर दिखाया भरोसा

वाशिंगटन। पिछले कुछ समय से अमेरिका का भरोसा भारतीयों मूल के लोगों पर बढ़ता जा रहा है इसी का नतीजा है कि अमेरिका में उपराष्ट्रपति से लेकर कई महत्वपूर्ण पदों पर इन दिनों भारतीय मूल के लोग हैं। हाल ही में अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने अपने एडवाइजरी कमिशन में 4 भारतीय मूल के अमेरिकियों को शामिल करने की इच्छा प्रकट की है।

अमेरिका के प्रेसिडेंट हाउस से जारी बयान के मुताबिक, कमीशन में शामिल 23 लोगों में 4 भारतीय मूल के कमल कलसी, सोनल शाह, अजय जैन भूटोरिया और स्मिता शाह भी शामिल होंगे। यह आयोग एएएनएचपीआई समुदाय के लोगों के विकास के लिए बनने वाली नीतियों पर अमेरिका के प्रेसिडेंट जो बाइडेन को सलाह देगा।

एशियाई अमेरिकी, हवाई निवासी और पैसिफिक आइलैंड के लोगों को संयुक्त रूप से AANHPI समुदाय कहा जाता है। व्हाइट हाउस ने अपने बयान में बताया कि कमिशन राष्ट्रपति को बताएगा कि किस तरह एशियाई अमेरिकी, हवाई निवासी और पैसिफिक आइलैंड के लोगों को सार्वजनिक, निजी और गैर-लाभकारी सेक्टर्स में बराबरी पर लाने और नए मौके तैयार करने के लिए काम किया जाए।

यह कमिशन एशियाई समुदाय के लोगों के विरुद्ध होने वाले जेनोफोबिया (विदेशी लोगों को पसंद न करना) और इस कारण होने वाली हिंसा से निपटने की नीतियों पर अपनी ओर से एडवाइज देगा। इसके साथ ही महिलाओं, एलजीबीटीक्यू+ लोगों और दिव्यांगों की परेशानियों को दूर करने की पॉलिसी पर काम करेगा। आयोग पूरे अमेरिका में AANHPI समुदायों की विविधता को भी दर्शाने की कोशिश करेगा।